गुड़हल के घरेलू नुस्खे – Gudhal Ke Gharelu Nuskhe

गुड़हल – गुड़हल का फूल अत्यधिक मे पौष्टिक तत्व होता है। इसमें विटामिन सी मिनरल और एटीआँक्सीडेट होता है। इसका प्रयोग खाने पीने रोगो के इलाज के लिए किया जाता हैं। इसमे कोलेस्ट्रॉल मधुमेह हाई ब्लड प्रेशर और गले से संबंधित रोगो मे किया जाता हैं। गुड़हल मे विटामिन सी कैल्शियम वसा फाइबर आयरन अधिक मात्रा में पाया जाता हैं। आयुर्वेद में भी गुड़हल के पेड़ को एक संपूर्ण औषधि माना जाता हैं। इसकी जड़ से लेकर पुष्प तक हर चीज किसी न किसी बिमारी का इलाज हैं। खास तौर पर स्किन और बालों जुड़ी सारी समस्या को खत्म करता है।

1. याददाश्त कमजोर होने पर गुड़हल के 15 से 20 फूल तथा पत्तियों को सुखाकर पाउडर बनाकर डेली एक गिलास दूध के साथ पीने से याददाश्त बढाने लगती हैं। और शरीर में खून की कमी को पूरा करता है।

2.गुड़हल की पत्तियों को पीसकर लगाने से चेहरे से मुहासे व दाग धब्बे खत्म हो सकता हैं।

3. गुर्दों मे समस्या होने पर या डायटिंग करने वालो को बर्फ के साथ गुड़हल का फूल बिना चीनी के पीने से गुर्दो की समस्या ठीक हो जाती हैं।

4. गुड़हल के पत्ते को मुहं मे रखकर पान की तरह चबाने से मुंह के छाले ठीक हो जाते है।

5. गुड़हल के ताजे फूलों को पीसकर बालों में लगाने से बाल सुन्दर और मजबूत बनते हैं।

6. सिर में रूसी होने पर मेंंहदी और नींबू के रस में 10 ग्राम पत्तियों को मिलाकर बालों की जड़ और सिर में लगाने से रूसी खत्म हो जाती हैं।

7. गुड़हल की पत्तियों और फूलों से सौंदर्य प्रसाधन और हर्बल आईशैडो बनाने में किया जाता है।

8. गुड़हल का शरीर की सूजन के साथ खुजली और जलन राहत पाने में किया जाता हैं।

9. गुड़हल के फूल और ताजी पत्तियों को अच्छी तरह पीसकर सूजन और जलन वाले स्थान पर लगाने से कुछ ही मिनट में जलन ठीक हो जायेगा।

10. बच्चों के लिए हर्बल शैम्पू बनाने के लिए गुड़हल का इस्तेमाल किया जाता हैं। क्योंकि इसमें माइल्ड तत्व पाया जाता हैं।

11. त्वचा की झुर्रियां को दूर करने के लिए गुड़हल फूल और पत्तियों का इस्तेमाल करने से त्वचा की झुर्रियां खत्म हो जाती हैं।

12. दिल के मरीज को गुड़हल की चाय की चाय बहुत फायदेमंद होती हैं। सूखे फूलों को पानी में उबालकर चाय तैयार करके पीने से दिल के रोगो से छुटकारा मिलता है।

13. गुड़हल के फूल  मे काफी पौष्टिक तत्व होता हैं। इसमें विटामिन सी मिनरल और एंटीआक्सीडेंट होता हैं। पौष्टिक तत्व सांस संबंधी तकलीफों को दूर करने जैसे गले में दर्द और कफ को ठीक करता है।

14. कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए गुड़हल का रस निकालकर सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल बढ़ने की संका नहीं रहती हैं।

15. गुड़हल को गर्म पानी के साथ या उबालकर हर्बल टी पीने से हाई ब्लड प्रेशर कम होता हैं।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *