नीम के घरेलू नुस्खे – Neem Ke Gharelu Nuskhe

नीम – नीम मे अनेक औषधीय गुण होते हैं। नीम हमारे स्वास्थ्य के लिए अत्यधिक लाभकारी होता हैं। इसीलिए इसे पृथ्वी पर कल्प वृक्ष कहा जाता हैं। नीम को इसके कड़वे पन के कारण पहचाना जाता हैं। नीम का अधिक उपयोग चर्मरोग व घाव को धोने मे सभी लोग किया करते हैं। लेकिन इसका प्रयोग अन्य रोगो मे भी किया जाता हैं।नीम मे बहुत सारे गुण होने के कारण यह आयुर्वेद में अपनी अलग पहचान रखता है।

1. दाद खाज खुजली होने पर नीम की पत्तियों को दही के साथ पीसकर लेप तैयार कर ले। फिर इस लेप को दाद खुजली वाले स्थान पर लगाने से आराम मिलता हैं।

2. घाव को ठीक करने के लिए नीम के पत्तों का लेप लगाने से घाव ठीक हो सकता है। यादि घाव पुराना हो तो नीम के पत्तों का लेप मे जैतून के तेल के साथ लगाने से घाव जल्दी ठीक हो जाता हैं।

3. बिषैले कीटों जैसे बिच्छू बर्रय मधुमक्खी आदि के दंक मारने पर दर्द हो तो आप को नीम के पत्ते का लेप लगाना चाहिए।क्योंकि इससे दर्द में तुरंत आराम मिलता हैं।और जहर भी नहीं फैलता है।

4. जोड़ो मे दर्द होने पर नीम के तेल का धीरे धीरे मालिश करने से जोड़ो के दर्द में आराम मिलता हैं।

5. पेट में कीड़े हो जाने पर नीम मुलायम पत्तियों को चबाकर खाने से पेट के कीड़े खत्म हो जाते है।

6. बावसीर से राहत पाने के लिए नीम की टहनियों का डंठल चबाकर खाने से बावसीर मे आराम मिलता है।

7. मलेरिया बुखार हो जाने पर नीम की पत्तियों और ताजे छाल का काढा़ बनाकर दिन में दो से तीन बार काढ़े को पीने से बुखार ठीक हो जाता हैं।

8. बालों से जू को हटाने के लिए नीम के बीजों को पीसकर या फिर नीम के पत्तों का काढ़ा बनाकर लगाने से बालों से जू और लीख खत्म हो जाते है।

9. बालों को लम्बा और घना बनाने के लिए नीम का पत्ता और बेर का पत्ता बराबर मात्रा में लेकर बरीक पीसकर लेप बना ले। फिर सिर में लेप लगाकर 1-2 घंटे बाद धो लें। ऐसा करने से बाल लम्बे मजबूत और घने हो जाते हैं।

10. रतौंधी होने पर नीम के कच्चे फल का दूध निकाल कर आंखों में लगाने से रतौंधी मे आराम मिलता हैं।

11. कानों की बीमारियों को ठीक करने के लिए नीम के पत्ते का रस निकाल कर बराबर मात्रा में शहद मिलाकर 2 – 2 बूंद सुबह शाम कानो मे डालने से कानो की समस्या खत्म हो जाती हैं।

12. दांतों की बिमारी को ठीक करने नीम का दातून करना चाहिए। बर्षों से लोग इसका प्रयोग करते आ रहे है।

13. टीबी की बिमारी को ठीक करने के लिए नीम के तेल का इस्तेमाल करना चाहिए। नीम के तेल को चार बूंद कैप्सूल मे भरकर दिन में तीन बार खाने से टीबी आपसे दूर हो जाएगी।

14. पीलिया रोग को ठीक करने के लिए नीम के पत्ते का रस 10 मिली और शहद 10 ग्राम मिलाकर दिन में दो बार एक हप्ते तक पीने से पीलिया ठीक हो जायेगा।

15. पथरी को ठीक करने के लिए नीम के पत्ते का राख बनाकर 500 ग्राम राख को कुछ दिनों तक पानी के साथ दिन में तीन बार खाने से पथरी बाहर निकल जाती हैं।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *